आखिर सभापति बन ही गई अंबालिका साहू पर अभी भी जागेश्वरी से है नाराजगी।

आखिर सभापति बन ही गई अंबालिका साहू पर अभी भी जागेश्वरी से है नाराजगी

 

बिलासपुर /पथरिया:- मुंगेली जिला पंचायत में दो महिला नेत्रीयो के बीच चल रहा झगड़ा थाने तक पहुंचा किंतु संचार समिति के सभापति का पद अंबालिका साहू को मिल जाने के बाद अब यह झगड़ा शांत होता दिख रहा है  अंबालिका साहू और जागेश्वरी वर्मा दोनों ओबीसी की राजनीति करती हैं और दोनों के राजनीतिक अहम आपस में टकराते रहते हैं बताया जाता है कि समिति के चुनाव में दोनों का विवाद हो गया था तब वरिष्ठ सदस्यों ने बीच-बचाव कर मामला शांत कर दिया था किंतु इस दौरान जागेश्वरी ने अंबालिका पर चरित्र गत आरोप लगाया जिससे अंबालिका साहू स्वयं को बेहद अपमानित महसूस करती थी उन्होंने कोतवाली थाने में इस संदर्भ में शिकायत भी की किंतु पुलिस ने पल्ला झाड़ते हुए 155 काट दिया अभी भी अंबालिका साहू का कहना है कि वे पार्टी के संगठन में मुंगेली के जिम्मेदार सागर सिंह वैश्य व सीमा वर्मा से चर्चा करेगी और उन्हीं के निर्देश अनुसार काम करेगी वैसे दोनों महिला नेत्रीओ का आपसी विवाद पुराना है जिला पंचायत बिलासपुर में भी झगड़े का कारण बनता बिगड़ता रहता था ऐसा कहा जाता है कि अंबालिका साहू की राजनैतिक महत्वाकांक्षा बहुत अधिक है और इसी कारण अपनी ही पार्टी में वरिष्ठ नेताओं से भी उनका विवाद हो जाता है बिल्हा विधानसभा टिकट को लेकर वर्ष 2018 के विधानसभा के चुनाव में उनका विवाद टिकट के दावेदार राजेंद्र शुक्ला से भी हुआ था तब भी क्षुब्ध होते हुए उन्होंने कांग्रेस पार्टी से इस्तीफा देने का राग अलापा था किंतु बाद में व्यक्तिगत मान मनौअल से शांत हो गई थी…

vandana