दोहरे हत्याकाड की गुत्थी सुलझाने में पुलिस को मिली कामयाबी।

दोहरे हत्याकाड की गुत्थी सुलझाने में पुलिस को मिली कामयाबी

24 घंटे के भीतर किया आरोपीयो को गिरफतार

जमीन विवाद को लेकर सगे भाई व परिजनो ने ही मिलकर की हत्या मामले का संक्षिप्त विवरण इस प्रकार है कि प्रार्थी सनंदन कश्यप पिता राधेश्याम कश्यप उम्र 20 साल साकिन तेदुआ थाना नवागढ़ पुलिस को सूचित किया कि दिनांक 26.08.21 को मा आपी बाई व बड़ी मां संतोषी बाई दोनो सुबह दादर खेत ग्राम सेमरा में खेती काम से गये थे जो शाम तक वापस नहीं आयें शाम को परिवार के साथ खोजने पर भी पता नहीं चला की सूचना पर किसी अनहोनी की शंका पर तत्काल हमराह स्टाफ के घटना स्थल गया । घटना स्थल दादर खेत के आस पास खोजबीन किये तो संतोषी बाई व आपी बाई दोनों पति राधेश्याम कश्यप बीच खेत में पेट के बल मृत अवस्था में पड़ी थी तत्काल मौके पर ही देहाती मर्ग कायम किया गया शव का निरीक्षण करने पर किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा दोनो बहनो की हत्या कर देना पाये जाने से मौके पर ही धारा 302 भादवि का देहाती अपराध कायम किया गया तथा मृतिका के परिजनो से पूछताछ किया जो बताये कि दोनों मृतिका के भाई विनोद कश्यप सेमरा निवासी से कुछ सालो से भाई बटवारा को लेकर जमीन का विवाद चल रहा था जिस बात को लेकर कुछ दिन पूर्व विनोद एवं विनोद की पत्नी फगनीबाई दोनों के द्वारा संतोषी बाई व आपी बाई को जान से मार देने की धमकी दिये थे । मामले की गंभीरता को देखते हुए श्रीमान पुलिस अधीक्षक श्री बी एन मीणा एवं श्रीमान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक महोदय श्री संजय महादेवा के द्वारा प्रकरण में आरोपी की तत्काल गिरफतारी के दिशा निर्देश पर , एसडीओपी जांजगीर श्रीमती दिनेश्वरी नंद के कुशल मार्गदर्शन में संदेही विनोद कश्यप , फगनीबाई एवं हेमंत कश्यप को मनोवैज्ञानिक तरीके से पूछताछ किया गया जो पूछताछ में विनोद कश्यप , अपनी पत्नि फगनी बाई , बेटा हेमंत कश्यप के साथ मिलकर मृतिका संतोषी बाई व आपी बाई की हत्या जमीन विवाद को लेकर खेत के पानी में सिर को दबा कर हत्या करना स्वीकार किये तथा बताये की संतोषी बाई , आपी बाई , विनोद कश्यप तीनो भाई बहन है । संतोषी बाई का विवाह तेन्दुआ के राधेश्याम कश्यप के साथ हुआ था दोनो के कोई संतान नही होने से परिजनो के द्वारा छोटी बहन आपीबाई का विवाह भी राधेश्याम से ही करा दिये थे शादी के लगभग 15 साल बाद दोनो बहनो के द्वारा अपने भाई विनोद कश्यप से जमीन बटवारे की मांग की गई थी जिस पर विनोद कश्यप जमीन देने को राजी नहीं था । न्यायालय आदेश से दोनो बहनो को लगभग 2 एकड जमीन मिला था जिस पर तीन साल से खेती किसानी कर रहे थे उसी जमीन पर मनमुटाव बना हुआ था दिनांक 26.08.2021 को जब दोनो बहने खेत पर काम कर रही थी आस पास के खेत मे कोई नही था तो आरोपी विनोद कश्यप , अपनी पत्नी व बेटे के साथ मिलकर दोनो बहनो को खेत के पानी मे सिर को दबा कर हत्या कर दिये । आरोपीयो के मेमोरण्डम कथन के आधार आरोपीयान ( 1 ) विनोद कश्यप पिता बरातू कश्यप उम्र 40 साल ( 2 ) फगनी बाई पति विनोद कश्यप उम्र 38 साल ( 3 ) हेमंत कश्यप पिता विनोद कश्यप उम्र 20 साल को आज दिनांक 28.08 . 2021 को गिरफतार कर न्यायायिक रिमाण्ड पर जेल भेजा गया है । उपरोक्त विवेचना कार्यवाही मे निरीक्षक देवेश सिह राठौर थाना प्रभारी नवागढ के नेतृत्व मे उनि योगेश पटेल प्र.आर.सुशील बड़ा , आरक्षक गुनेश्वर साहू , आनंद किशारे सिह , राम सरकार कश्यप, शिव भोला कश्यप, विरेन्द्र सूर्यवंशी , रामदेव साहू , म 0 आर 0 सुमित्रा रात्रे श्वेता यादव का कार्य सराहनीय रहा।

vandana